Showing posts with label Kisan Ke Char Bete Ki Kahani. Show all posts
Showing posts with label Kisan Ke Char Bete Ki Kahani. Show all posts

Tuesday, 5 June 2018

किसान के चार बेटों की कहानी - kisan ke char bete ki kahani


किसान के चार बेटे और लकड़ी का गट्ठर 


सुंदरपुर गाँव में एक बूढ़ा किसान रहता था। उसका नाम मोहनलाल था। उसके चार बेटे थे। वह बहुत सुखी सम्पन्न था। उसके पास किसी चीज की कमी नहीं थी, उसकी गिनती गांव के धनी लोगो में होती थी।

isan ke char bete ki kahani
किसान और उसके चार बेटों की कहानी

मोहनलाल के पास बहुत सारा खेत था, वह अपनी मेहनत से बहुत अनाज उगाता था। उसके अनाजों से गांव की मंडी भरी रहती थी। लेकिन किसान जब भी घर आता वह अपने चारों बेटे को आपस में लड़ते - झगड़ते देखता था।


Thursday, 25 January 2018

किसान के आलसी बेटे (Farmer and his Lazy Son story in Hindi)


किसी गाँव में एक किसान रहता था। उसके चार बेटे थे, लेकिन चारों बहुत आलसी थे।

किसान अपने बेटों से परेशान रहता था, एक दिन किसान ने सोचा की इनको मेहनती बनाने के लिए कोई उपाय सोचना पड़ेगा।

This is hindi stories of farmar

एक दिन किसान सुबह उठा और उसने अपने बेटों से कहा - में तीर्थ पर रहा हूँ , वापस कुछ महीने बाद लौटूंगा।