Saturday, 29 December 2018

जादुई झोला | Story For Kids in Hindi | Moral Story For Kids in Hindi


Moral Story For Kids in Hindi


Story For Kids in Hindi - किसी गांव में एक किसान रहता था। वह बहुत ईमानदार था, एक दिन की बात हैं किसान को अपने खेत में बीजों की बोआई करनी थी। 

उसने एक झोले में कुछ बीज लिया और अपने खेत की तरफ निकल गया। उसने खेत में अच्छे से बीज की बोआई की और सोचा की थोड़ा खाना खा लेता हूँ, फिर घर जाऊँगा। 

उसने अपने झोले में से कुछ रोटियाँ निकली और झोले को पेड़ पर रख दिया और खाना खाने लगा। 

उसने भर पेट खाना खाया, आज उसने बहुत अधिक मेहनत किया था इसलिये उसे खाना भी बहुत स्वादिस्ट लग रहा था।

Moral Story For Kids in Hindi
Moral Story For Kids in Hindi

किसान ने अपना झोला पेड़ से उतार कर के उसमें कुछ बर्तन जिसमें किसान ने खाना खाया था और कुछ बचे हुये बीज रख लिया और अपने घर आ गया। 

लेकिन यह क्या, किसान के झोले में सभी चीजें चार हो गयी थी, उसने एक बर्तन रखा था और झोले में चार बर्तन हो गयी थी। किसान चकीत हो गया, उसने झोले को छुआ भी नहीं और उसे एक कील में लटका कर रख दिया। 

रात में किसान के सपने में देखा की पेड़ उससे बातें कर रहा है, पेड़ ने किसान से कहा - किसान तुमने जो झोला रखा था, उसे मैंने एक जादुई झोले में बदल दिया हैं। 

तुम बहुत ईमानदार हो, तुमने मेरे पेड़ के निचे बहुत अच्छी सफाई की हैं, तुम खेत में भी बहुत मेहनत करते हो, इसलिये इस झोले को एक ईमान समझो। 

जब भी तुम्हें किसी चीज की जरुरत हो, तुम बस एक चीज उसमें दाल देना और फिर वह अपने आप ही चार बन जायेगा। 

अब किसान समझ गया, उसने सुबह उस झोले को पलटा और उसमें से चार बर्तन नीचे गिरे, यह देख किसान बहुत प्रसन्न हुआ।

उसे जिस भी चीज की जरुरत होती वह तुरंत उसमें एक वैसी चीज डाल देता और झोले में से चार वैसी ही चीज बाहर निकलती थी। 

इस तरह किसान धीरे  धीरे धनी होता गया। उसके एक पड़ोसी को जब यह बात पता चली तो उसने वह जादुई झोला चुराने की सोची। 

एक रात उसने किसान से वह जादुई झोला चुरा लिया और अपने घर वह जादुई झोला ले आया। उसने सोचा की ऐसी क्या बात है इस झोले में जिससे एक चीज चार बन जाती हैं।

उसने एक हाथ उस झोले में डाला, बाहर निकालते ही उसके चार हाथ हो गये। वह रोने लगा, उसने वह झोला वापस उस किसान के घर में रख दिया। 

अगले दिन वह किसान के पास गया और उससे सारी बातें बतायी। ईमानदार किसान ने उसे माफ कर दिया और उस पड़ोसी के हाथ पहले की तरह हो गये, अब उसे समझ में आ गया की लालच बुरी बला हैं।

Moral Story For Kids In Hindi - बच्चों इस कहानी से हमें यह सीख मिलती हैं की कभी भी लालच नहीं करना चाहिये , लालच बुरी बला है। 

***

दोस्तों इस लेख में आपने एक जादुई झोला की कहानी (जादुई झोला की कहानी | Story For Kids in Hindi) पढ़ी, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी तो इसे शेयर करें, और सभी कहानियों का Notification अपने Facebook पर पाने के लिए Facebook Page को Like करें।

ये कहानियाँ भी पढ़ें -


15. जादुई संतरा की कहानी 

Thanks For Reading - Story For Kids In Hindi

No comments:

Post a Comment