Saturday, 10 November 2018

अमेजिंग स्टोरी : सबसे बड़ी शर्त - Amazing story in hindi



Amazing story in hindi


किसी नगर में एक राजा रहता था। वह बहुत ही चालक और घमंडी था। एक दिन उसने मुनादी करवा दी की जो भी मुझे सबसे लम्बी कहानी सुनाएगा उसे दो घड़ा सोना और एक मुँह माँगा इनाम मिलेगा। 

अगर किसी की कहानी छोटी हुयी तो उसे कैद कर लिया जायेगा। 

 Amazing story in hindi
 Amazing story in hindi

बस फिर क्या था।  राजा की शर्त सुनते ही कई लोग राजा को अपनी कहानी सुनाने आये, राजा ने सबकी कहानी सुनी, कहानी चाहे कितनी भी लम्बी हो राजा अंत तक यही पूछता - फिर क्या हुआ। 

और जैसे ही लोग कहते की कहानी समाप्त, राजा तुरंत उसे जेल में दाल देता था। 

राजा की इस शर्त से कुछ ही दिन में उसके यहाँ बहुत से लोग कैदी बन गये।

उस राज्य में एक बहुत ही बुद्धिमान कवि रहता था, उसने राजा की चालाकी समझ ली और राजा को सबक सीखने का एक उपाय सोचा।

अगले दिन कवी दरबार में पहुंचा, आज भी बहुत से लोग कहानी सुनाने आये थे। लेकिन कुछ ही देर में उनकी कहानी समाप्त हो गयी और वे भी राजा के यहाँ कैदी हो गये।

अब कहानी सुनाने की बारी उस कवि की थी, उसने अपनी कहानी की शुरुआत की - महाराज एक बहुत ही बड़ा खेत था, उसमें बहुत ही ज्यादा अनाज लगा हुआ था।  और खेत की एक कोने में एक बहुत ही बड़ा बरगद का पेड़ था। 

राजा ने कहा - बहुत अच्छी कहानी हैं, फिर क्या हुआ..?

कवी - उस पेड़ पर बहुत सारी चिड़ियाँ बैठी हुयी थी। उनमें से एक चिड़ियाँ आयी एक दाना खायी और फुर्ररर।

राजा - वाह...वाह क्या कहानी हैं, फिर क्या हुआ..?

कवि - फिर चिड़ियाँ आयी एक दाना खायी और फुर्ररर।

राजा - अच्छा फिर क्या हुआ..?

कवि - फिर एक चिड़ियाँ आयी एक दाना खायी और फुर्ररर।

राजा - ठीक हैं... फिर क्या हुआ। 

कवि - फिर चिड़ियाँ आयी एक दाना खायी और फुर्ररर।

राजा - अरे चिड़ियाँ आयी दाना खायी और फुर्ररर आगे की कहानी भी बताओ। 

कवि  - महाराज अभी तो कुछ ही चिड़ियाँ आयी है, अब फिर एक चिड़ियाँ आयी एक दाना खायी और फुर्ररर।

राजा को समझ आ गया की आज उसकी चालाकी नहीं चलने वाली क्यों की आज उससे भी ज्यादा बुद्धिमान कवि कहानी सुना रहा हैं। राजा समझ चूका था की कवि हारने वाला नहीं हैं। 

कवि - महाराज आगे की कहानी चिड़ियाँ आयी एक दाना खायी और फुर्ररर। 

राजा - कवि तुम जीत गये, तुम अपना दो घड़ा सोना इनाम ले जाओ, और तुम अपना मुँह माँगा इनाम भी मांगो। 

कवि - महाराज आपने जितने भी लोगों को कहानी सुनाने के लिये कैद किया हैं, उसे कैद से आजाद कर दें। क्यों की उन्होंने आपको कहानी सुना के प्रसन्न करने का प्रयास तो किया हैं और बिना मतलब के किसी को कैद करना अच्छी बात भी नहीं हैं। 

उस कवि ने एक घड़ा सोना उन सभी लोगों में बाँट दिया जिसे राजा ने कैद कर लिया था, और एक घड़ा सोना लेकर बुद्धिमान कवि खुश होकर अपने घर आ गया।

शिक्षा - दोस्तों, बुद्धि बहुत बड़ी होती हैं, कैसी भी समस्या का समाधान बुद्धि से निकला जा सकता हैं।

कहानी समाप्त 

दोस्तों यह कहानी (Amazing Story In Hindi) तो समाप्त हो गयी लेकिन अगर आपको कहानी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें, भारती हिंदी पर ऐसी ही अमेजिंग कहानियाँ मौजूद हैं उसे भी पढ़ें, अगर आप इस कहानी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं तो कमेंट बता सकते हैं। धन्यवाद।

RELATED AMAZING STORY IN HINDI -



No comments:

Post a Comment