Pages

Moral Stories | ईश्वर हमेशा देखते रहते हैं

Moral Stories

किसी समय की बात हैं , एक गाँव में एक किसान रहता था उसका एक पांच साल का बेटा था ,

किसान अपने बेटे को हमेशा अच्छी शिक्षा देता था , वह चाहता था की उसका  बेटा बड़ा होकर एक अच्छा इंसान बनें ,

एक दिन किसान अपने बेटे को साथ लेकर बाजार जा रहा था , रास्ते में उसके बेटे ने पूछा - पिताजी हमेशा कौन देखता रहता हैं ?

किसान को उसका सवाल बहुत अलग लगा , लेकिन उसने अपने बेटे से कहा - ईश्वर हमेशा देखते रहते हैं .

बच्चे ने अपना सर हिलाया और दोनों बाजार की तरफ बढ़ गए ,

Moral Stories image
Moral Stories


कुछ महीने बाद फसल काटने का समय आया , लेकिन इस साल किसान के खेत में अच्छी फसल नहीं हुई |

इतना कम अनाज से पूरे साल घर कैसे चलता ?  इसलिए किसान ने सोचा आज रात में चोरी से दूसरों के खेत से कुछ फसल काट लूँगा जिससे मेरा घर चल सके ,

रात होने पर किसान अपने बेटे से साथ दूसरों के खेत गया और अपने बेटे से बोला की में फसल काट रहा हूँ अगर खेत का कोई देखे तो मुझे बता देना , में सतर्क हो जाऊंगा

किसान उस खेत में फसल काटने लगा , तभी उसके बेटे को वह बात याद आ गयी जो किसान ने उसे बाजार जाते समय कहा था |

उसने किसान से कहा...पिताजी आप खेत से बाहर आ जाईये वो देख रहें हैं .

किसान खेत से बाहर आ गया लेकिन वहाँ कोई नहीं था तो उसने कहा कौन आ गया ?

बेटे ने कहा ..पिताजी ईश्वर हमेशा देखते रहते हैं , इसलिए आप दूसरों के खेत में चोरी न करें,

किसान को अपनी गलती पे  बहूत पछतावा हुआ , उसने कहा... तुमनें मेरी आंखें खोल दी बेटा तुमने सच कहा ईश्वर हमेशा देखतें हैं .


Related Stories 

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.