Sunday, 24 December 2017

बच्चों की कविता - देश हमारा | Poem For Kids

बारी बारी रितुएं आती

       अपनी छठा यहाँ दिखलाती 

फल फुलों से भरे बगीचें 

        चिड़ियाँ मीठे गीत सुनाती,

देश मेरा यह कितना न्यारा

      सबसे सुन्दर सबसे प्यारा



No comments:

Post a Comment